इसे कहते है सितारा..डांस से इंडिया का दिल जीतने वाले राघव जुयाल अपने गांव में लोगों की बचा रहे जिंदगिया-Hindi News

इसे कहते है सितारा..डांस से इंडिया का दिल जीतने वाले राघव जुयाल अपने गांव में लोगों की बचा रहे जिंदगिया-Hindi News

Hindi News – UTTARAKHAND: जन्मभूमि ने पुकारा तो बॉलीवुड की चकाचौंध से छोड़कर राघव अपने गांव उत्तराखंड पहुंच गये। मास्क से लेकर ऑक्सीजन तक लोगो के लिए उपलब्ध करवा रहे है। अपनी बेमिसाल डांसिग से लोगो के दिलों में राज करने वाले राघव जुयाल इन दिनों लोगों की जिंदगिया बचाने में जी-जान से लगे है। राघव अपनी मातृभूमि के लोगों को बचाने में लगे है।पूरे उत्तराखंड में कोरोना से लड़ रहे लोगों की मदद राघव कर रहे है। राघव पिछले 15 दिनों से सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव है। वे लोगों से उत्तराखंड को बचाने की अपील कर रहे है। राघव ने रोते हुए सेव UK की एक वीडियो भी अपलोड की है। कुंभ के बाद से उतंराखंड में कोरोना आग की तरह फैला है। जिसके बाद लोग संक्रमित मिल रहे है। बढ़ते कोरोना से ऑक्सीजन की कमी हो गई है जो शहरी इलाकों में ही पूरी नहीं हो पा रही है। जिन लोगों को ऑक्सीजन, दवाइयां की कमी हो रही है राघवव उनकी कमी पूरी कर रहे है। गांव वालों के पास सभी सुविधाए पहुंचा रहे है। पहाड़ी इलाकों में स्वास्थ्य सुविधाएं ना के बराबर होती है। कोई भी व्यक्ति गंभीर रूप से बीमार हो तो उसे शहर ले जाना पड़ता है इतने में उसकी मृत्यु हो जाती है। लेकिन राघव अपने गांव में ही सारी व्यवस्थाएं पहुंचा रहे है।

ALSO READ: प्रयागराजः श्रृंगवेरपुर घाट पर शवों को दफनाने की परम्परा पर लगेगी रोक, लोग कम खर्चे में कर सकेंगे शवों का अंतिम संस्कार

डांस दीवाने होस्ट कर रहे राघव

राघव जुयाल इन दिनों फेमस डांस शो डांस दीवाने होस्ट कर रहे थे लेकिन इसी बीच वह कोरोना संक्रमित पाये गए जिस कारण राघव को ब्रेक लेना पड़ा। कार्यक्रम को कई लोग पॉज़िटिव पाये गए थे। लेकिन इसके बाद राघव अपनी मातृभूमि उत्तराखंड चले गए। वहां के लोगों पर कोरोना का संकट देख राघव जी जान से मदद को लग गए। राघव ने आजतक को एक इंटरव्यु दिया था जिसमें राघव ने कहा कि आजकल में मैं इस वक्त बहुत बिजी हूं। रोजाना ऑक्सीजन, बेड्स, एंबुलेंस के मदद के कॉल्स आते रहते हैं। इसलिए लोगों से ज्यादा बात नहीं हो पा रही है। डांस दीवाने से चले जाने पर राघव ने कहा कि इस वक्त जहां मेरी ज्याजा जरूरत है मैं वहीं रहूंगा। मुझे लगता है इस वक्त मेरी जरूरत गांव में है। वर्क कमिटमेंट की वजह से मैं इस महीने के अंत में डांस दीवाने की शूट में वापस जा रहा हूं। हालांकि मैंने उन्हें फोन पर ही बता दिया है कि मैं चार से पांच दिन की शूट पूरी कर वापिस लौट जाऊंगा और चैनल ने मेरी बात भी मान ली है।

हेलीकॉप्टर से ऑक्सीजन सिलिंडर लेकर पहुंचे राघव जुयाल

अल्मोड़ा/बागेश्वर। बॉलीवुड एक्टर, एंकर, डांसर राघव जुयाल और पहाड़ परिवर्तन समिति के उमेश कुमार सोमवार को हेलीकॉप्टर से ऑक्सीजन सिलिंड और दवाएं लेकर अल्मोड़ा पहुंचेे। दोनों ने पालिकाध्यक्ष को उपकरण और दवाएं सौंपीं। पालिकाध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने यह सामग्री नोडल अधिकारी एसके उपाध्याय, आपदा प्रबंधन अधिकारी राकेश जोशी आदि को जरूरतमंदों को बांटने के लिए दे दी हैं। पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी ने जुयाल और उमेश के प्रयासों की सराहना की। इस मौके पर राघव ने कहा कि पहाड़ों में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की हालत ठीक नहीं है। उन्होंने सरकार से पीएचसी सेंटरों में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने का आग्रह किया। उमेश कुमार ने बताया कि ऑक्सीजन सिलिंडर गोपेश्वर, बागेश्वर, पिथौरागढ़, चंपावत और उत्तरकाशी भी भेजे हैं। राघव जुयाल के साथ उनके भाई यशस्वी जुयाल, इशांत भी आए थे। राघव जुयाल और उमेश कुमार के काम को बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद, बोनी कपूर, टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना, टीम इंडिया के तेज गेंदबाद मो. शमी ने भी सराहा है।

सरकार के प्रति गुस्सा और भी बढ़ गया है- राघव

अचानक से कोरोना की लड़ाई में एक्टिव हुए राघव कहते हैं, जब मैं यहां पहुंचा, तो मेरे साथ ही मेरे परिवार के कई लोग इसकी चपेट में आ गए थे।लेकिन हम तो लकी निकले कि इस महामारी से हमें किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं हुआ। लेकिन बाहर हो रही लगातार घटनाओं को देखकर मेरा दिल दहल उठता था। लोग मर रहे हैं, सिस्टम कोलैस्प होता दिख रहा है। जिसे हम सालों भर टैक्स देते हैं, वो कुछ कर नहीं पा रहे हैं। यह सब देखकर गुस्सा भी आता था। वैसे मेरी आदत भी थोड़ी क्रांतिकारियों वाली है, तो मैंने यहां अपनी यंग गैंग को इकट्ठा किया और भिड़ गए इस मिशन में कि हमें अपने उत्तराखंड को बचाना है। अभी जब से इसमें इन्वॉल्व हुआ हूं। तो सरकार के प्रति गुस्सा और भी बढ़ गया है। जब हम फ्रंटलाइन में आकर लोगों की मदद कर सकते हैं और बदलाव ला सकते है तो ये तो सरकार है, हमसे भी ज्यादा पावरफुल। चाहेंगे तो क्या नहीं हो सकता खैर मैं बस अपने गुस्से को फिलहाल यहां फोकस कर रहा हूं ताकि और एग्रेसिवली काम कर सकूं।
-Hindi News Content By Googled

Sujeet Maurya

Sujeet Maurya

Send him your best wishes by leaving something on his wall.

Emergency Call

Sujeet Maurya
Sujeet Maurya Sant Kabir Nagar 7053788097
Sujeet Maurya
Sujeet Maurya Khalilabad 7053788097
Sujeet Maurya
Sujeet Maurya Khalilabad 7053788097
Sujeet Maurya
Sujeet Maurya Khalilabad 7053788097
Sujeet Maurya
Sujeet Maurya Khalilabad 7053788097