मुंबई इंडियंस के पदचिन्हों पर चलने की कोशिश कर… Hindi News Jago Bhart

Jago Bhart Hindi News – दुबई। मुंबई इंडियंस ऐसी टीम है जिसने अपनी सभी पहेलियों को सुलझा लिया है और दिल्ली कैपिटल्स भी यही करने की कोशिश कर रही है, यह कहना है इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी डॉमिनिक कॉर्क का। दिल्ली अपने पहले आईपीएल खिताब की खोज में है और इसी क्रम में वो दुबई […]

मुंबई इंडियंस के पदचिन्हों पर चलने की कोशिश कर… Hindi News Jago Bhart

Jago Bhart Hindi News –

दुबई। मुंबई इंडियंस ऐसी टीम है जिसने अपनी सभी पहेलियों को सुलझा लिया है और दिल्ली कैपिटल्स भी यही करने की कोशिश कर रही है, यह कहना है इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी डॉमिनिक कॉर्क का।

दिल्ली अपने पहले आईपीएल खिताब की खोज में है और इसी क्रम में वो दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में चार बार की विजेता मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैदान पर उतरेगी।

कॉर्क ने कहा, मुझे लगता है कि दिल्ली की कोशिश मुंबई के पदचिन्हों पर चलने की है और क्यों नहीं आप वैसा करने की कोशिश करते क्योंकि वो तो सफल है। यह थोड़ा अलग है। इसलिए यह वो टीम नहीं है जो दो सप्ताह में बनी है। यह पूरे साल का नतीजा है। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि उन्होंने रिकी पोंटिंग जैसे कोच, जो आईपीएल जीत चुका है, के रहते भारतीय युवा खिलाड़ियों का कोर ग्रुप बनाने की कोशिश की गई है- कप्तान, विकेटकीपर, श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत इसमें हैं।

साथ ही उन्होंने विदेशी खिलाड़ियों के साथ भी अपनी टीम में विविधता लाने की कोशिश की है। लीग से पहले दिल्ली ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बाउल्ट को मुंबई को ट्रेड किया और दो सीजन किंग्स इलेवन पंजाब टीम की कप्तानी करने वाले रविचंद्रन अश्विन को अपनी टीम में शामिल किया। कॉर्क ने कहा, अश्विन के आने से, साथ ही उनके युवा खिलाड़ियों के होने से उनके पास अच्छा मिश्रण हो गया। इसलिए वो मुंबई की नकल करने की कोशिश कर रहे हैं।

मुंबई के बारे में कॉर्क ने कहा कि वह लीग की सर्वश्रेष्ठ टीम है जिसने अपने सभी पहेलियों को सुलझा लिया है। उन्होंने कहा, जब आप मुंबई को देखते हैं कि उन्होंने क्या किया है,यह बताता है कि उनकी टीम सर्वश्रेष्ठ है। मुझे लगता है कि उन्होंने जिस तरह अपने खिलाड़ियों का इस्तेमाल किया है, उनका विश्लेषण भी शानदार है।

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि उन्होंने अपनी हर एक समस्या को सुलझा लिया है। जब आप उनकी टीम को देखते हैं तो यह सर्वश्रेष्ठ टीम है। अगर बाउल्ट चोटिल हो जाते हैं तो उनके पास मिशेल मैक्लेंघन के रूप में बाएं हाथ का गेंदबाज है। उनके पास शानदार युवा खिलाड़ी भी हैं। दो के मैं नाम लेना चाहूंगा- सूर्यकुमार यादव, राहुल चाहर। यह दो मुझे लगता है कि भारत के लिए खेलेंगे।

var aax_size=”728×90″; var aax_pubname = “nayaindia-21″; var aax_src=”302”; -Jago Bhart Hindi News