Corona Update: संक्रमण का नया रिकार्ड-Hindi News

Hindi News – नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर में हर दिन संक्रमितों की संख्या का नया रिकार्ड बन रहा है। रविवार को महाराष्ट्र में संक्रमितों की संख्या का नया रिकार्ड बना। वहां 24 घंटे में 57 हजार से ज्यादा मरीज मिले। देश भर में भी संक्रमितों की संख्या रविवार को नया […]

Corona Update: संक्रमण का नया रिकार्ड-Hindi News

Hindi News – नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर में हर दिन संक्रमितों की संख्या का नया रिकार्ड बन रहा है। रविवार को महाराष्ट्र में संक्रमितों की संख्या का नया रिकार्ड बना। वहां 24 घंटे में 57 हजार से ज्यादा मरीज मिले। देश भर में भी संक्रमितों की संख्या रविवार को नया रिकार्ड बना सकती है। खबर लिखे जाने तक देश भर में 90 हजार से ज्यादा मरीज मिलने की पुष्टि हो गई थी, जबकि उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ सहित कई राज्यों के आंकड़े अपडेट नहीं हुए थे। एक दिन पहले छत्तीसगढ़ में 58 सौ से ज्यादा मरीज मिले थे। इन तीन राज्यों के एक दिन पहले के आंकड़े के आधार पर अनुमान है कि देर रात तक इन राज्यों के आंकड़े अपडेट होने के बाद देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक लाख के आंकड़े तक पहुंच सकती है।

बहरहाल, देश में सर्वाधिक संक्रमित महाराष्ट्र में रिकार्ड संख्या में 57 हजार से ज्यादा मरीज मिले। महामारी की पूरी अवधि में एक दिन में इतने मरीज कभी नहीं मिले थे। दुनिया के देशों में अमेरिका को छोड़ कर बाकी किसी भी देश में एक दिन में इतने केसेज नहीं आए हैं, जितने अकेले महाराष्ट्र में आए हैं। महाराष्ट्र में 24 घंटे में ब्राजील और तुर्की जैसे देशों से ज्यादा नए केसेज मिले हैं। देश की वित्तीय राजधानी मुंबई में 11 हजार से ज्यादा नए केसेज मिले हैं।

रविवार को देर रात तक देश में इस बीच देश में संक्रमितों की कुल संख्या सवा करोड़ का आंकड़ा पार कर गई है। इसके साथ ही देश में एक्टिव मरीजों की संख्या का आंकड़ा भी सात लाख से ऊपर पहुंच गया है। नए संक्रमितों की संख्या और एक्टिव मरीजों की संख्या भी बहुत तेजी से बढ़ रही है। नए मरीजों की संख्या के लिहाज से भारत दुनिया का नंबर एक देश बन गया है। रविवार को भारत में लगातार दूसरे दिन 90 हजार से ज्यादा नए केसेज मिले, जबकि दुनिया के सर्वाधिक संक्रमित देश अमेरिका में 24 घंटे में 66 हजार के करीब नए संक्रमित मिले। कुल संक्रमितों की संख्या के लिहाज से भारत अब भी दुनिया में तीसरे स्थान पर है लेकिन जिस रफ्तार से केसेज बढ़ रहे हैं उसे देखते हुए लग रहा है कि एक हफ्ते में भारत ब्राजील को पीछे छोड़ कर फिर दूसरे स्थान पर पहुंच जाएगा।

देश में सर्वाधिक संक्रमित महाराष्ट्र में रविवार को संक्रमितों की संख्या का नया रिकार्ड बना। राज्य में 57,074 नए संक्रमित मिले, जबकि 27,508 मरीज इलाज से ठीक हुए। इस तरह राज्य में एक दिन में 30 हजार के करीब एक्टिव केस बढ़े, जिसके बाद एक्टिव केसेज की संख्या चार लाख 30 हजार से ज्यादा हो गई। राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 30 लाख 10 हजार से ज्यादा हो गई है। रविवार को राज्य में 222 लोगों की मौत हुई। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार को इस साल पहली बार संक्रमितों की संख्या चार हजार से ऊपर रही। राज्य में 24 घंटे में 4,033 नए केसेज मिले, जबकि इलाज से 2,677 लोग ठीक हुए और 21 लोगों की मौत हुई। राज्य में एक्टिव केसेज की संख्या 13,982 हो गई है।

दक्षिण के राज्यों में कोरोना के केसेज बढ़ने का सिलसिला जारी है। तमिलनाडु में रविवार को संक्रमितों की संख्या लगातार तीसरे दिन तीन हजार से ऊपर रही। राज्य में 3,581 नए मामले आए और 1,813 लोग इलाज से ठीक हुए। केरल में 2,802 नए संक्रमित मिले, जबकि 2,173 लोग इलाज से ठीक हुए। कर्नाटक में रविवार को 4,553 नए मरीज मिले, जबकि सिर्फ 2,060 लोग इलाज से ठीक हुए। राज्य में 15 लोगों की मौत हुई। आंध्र प्रदेश में 1,730 नए केसेज मिले और 842 लोग इलाज से ठीक हुए। रविवार को गुजरात में 2,875 नए मामले आए और 2,024 लोग इलाज से ठीक हुए। पंजाब में रविवार को 3,019 नए संक्रमित मिले और 2,955 लोग इलाज से ठीक हुए। राज्य में 51 लोगों की मौत हुई।

कोरोना पर मोदी ने की बैठक

पांच राज्यों में चल रहे चुनाव में प्रचार के अपने व्यस्त कार्यक्रम से समय निकाल कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के उपायों पर विचार के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की। इसमें संक्रमण रोकने के उपायों के साथ साथ वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाने पर भी विचार किया गया है। गौरतलब है कि मार्च से ही कोरोना वायरस की दूसरी लहर देश में चल रही है और अब हर दिन संक्रमित होने वालों की संख्या 90 हजार से ऊपर पहुंच गई है।

बहरहाल, रविवार को हुई बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना पर काबू पाने के लिए लोगों में जागरूकता और उनकी भागीदारी सबसे जरूरी है। उन्होंने पांच स्तर की रणनीति के बारे में बताया और कहा कि अगर इसे गंभीरता से अपनाया जाता है तो महामारी को रोकने में यह काफी कारगर होगा। उन्होंने टेस्टिंग, ट्रेसिंग, ट्रीटमेंट, गाइडलाइंस के मुताबिक व्यवहार और वैक्सीनेशन को गंभीरता से अपनाने की जरूरत बताई।

प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक, बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने संक्रमण की रोकथाम के उपायों को बेहतर तरीके से लागू करने की खास तौर से जरूरत बताई। इसमें एक्टिव केस की तलाश और कंटेनमेंट जोन के मैनेजमेंट में कम्यूनिटी वालंटियर्स की भागीदारी भी शामिल है। प्रधानमंत्री ने ज्यादा केस वाले राज्यों और जिलों को मिशन मोड में काम जारी रखने के लिए कहा। प्रधानमंत्री ने निर्देश दिया है कि संक्रमण के नए मामलों में तेज बढ़ोतरी और मौतों को देखते हुए महाराष्ट्र, पंजाब और छत्तीसगढ़ में केंद्र से टीमें भेजी जाए।

इस उच्च स्तरीय बैठक में प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, कैबिनेट सचिव, गृह सचिव, स्वास्थ्य सचिव, आईसीएमआर के महानिदेशक, केंद्र सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार और नीति आयोग के सदस्यों के साथ अन्य अधिकारी मौजूद थे। प्रधानमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि आने वाले दिनों में अस्पतालों में बेड की उपलब्धता, टेस्टिंग फैसिलिटी और मरीज को समय पर अस्पताल में भर्ती कराना सुनिश्चित किया जाना चाहिए। उन्होंने मृत्यु दर कम करने करने की जरूरत पर भी जोर दिया।

राज्यों ने पाबंदियां बढ़ाईं

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए महाराष्ट्र से लेकर राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों की सरकारों ने पाबंदियां सख्त कर दी हैं। महाराष्ट्र में नौ अप्रैल यानी अगले शुक्रवार शाम आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक हर सप्ताहांत पर लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान बसों, ट्रेनों, टैक्सियों सहित जरूरी सेवाओं और परिवहन की ही अनुमति रहेगी। राज्य के मंत्री नवाब मलिक ने बताया कि पांच से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी होगी।

राज्य सरकार ने नई पाबंदियों की घोषणा करते हुए बताया है कि सरकारी ऑफिस 50 फीसदी क्षमता पर काम करेंगे। साथ ही 50 फीसदी बैठने की क्षमता पर निजी वाहनों को चलाने की अनुमति रहेगी। दिन में गाड़ियां चलेंगी लेकिन रिक्शा में एक ड्राइवर और दो लोगों को ही अनुमति है। टैक्सी 50 फीसदी क्षमता के साथ चलेगी। धार्मिक स्थलों को आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया। वहां सिर्फ पुजारी और कर्मचारियों को ही अनुमति होगी। संक्रमण बढ़ने की वजह से महाराष्ट्र में पहली से आठवीं तक की परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। आठवीं तक के सभी छात्रों को बिना परीक्षा के ही पास करा दिया जाएगा।

उधर राजस्थान में कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अधिकारियों के साथ ऑनलाइन मीटिंग की और 15 से 20 दिन तक सख्ती बरतने के संकेत दिए हैं। इसमें रेस्टोरेंट, जिम और सार्वजनिक कार्यक्रम पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा सकती है। गौरतलब है कि राज्य में मार्च के महीने में संक्रमण की दर दो गुना बढ़ गई है। राजस्थान में एक सप्ताह के अंदर आठ हजार केस मिले हैं। राज्य में बिगड़ते हालात को देखते हुए जयपुर सहित कई जिलों में नाइट कर्फ्यू पहले से ही लगा दिया है।

मध्य प्रदेश में भी कोरोना बेकाबू हो गया है। संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। राज्य में संक्रमण की दर 11 फीसदी पर पहुंच गई है। संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए छत्तीसगढ़ से लगी राज्य की सीमाएं सील कर दी गई हैं। महाराष्ट्र से लगी सीमा पहले ही सील की जा चुकी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बढ़ते कोरोना केस पर कहा कि जहां जरूरत पड़ी, वहां लॉकडाउन लगाया जाएगा।
-Hindi News Content By Googled