Assam Election 2021 दूसरा चरण : आपराधिक छवि वालों में बीजेपी नम्बर वन, हर 10वां उम्मीदवार मुकदमे में और हर 5वां करोड़पति, 61 प्रतिशत ग्रेजुएट भी नहीं-Hindi News

Hindi News – नई दिल्ली | असम विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Election 2021) के दूसरे चरण में 345 उम्मीदवार मैदान में हैं और इनमें से 11 प्रतिशत दागी हैं। ‘एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’ (Association for Democratic reforms report) की पड़ताल में यह सामने आया है कि इन उम्मीदवारों ने खुद के अपराधी होने की जानकारी […]

Assam Election 2021 दूसरा चरण : आपराधिक छवि वालों में बीजेपी नम्बर वन, हर 10वां उम्मीदवार मुकदमे में और हर 5वां करोड़पति, 61 प्रतिशत ग्रेजुएट भी नहीं-Hindi News

Hindi News –

नई दिल्ली | असम विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Election 2021) के दूसरे चरण में 345 उम्मीदवार मैदान में हैं और इनमें से 11 प्रतिशत दागी हैं। ‘एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’ (Association for Democratic reforms report) की पड़ताल में यह सामने आया है कि इन उम्मीदवारों ने खुद के अपराधी होने की जानकारी चुनावी हलफनामे में दी है। यह रिकार्ड एडीआर और संस्था ‘असम इलेक्शन वाच’ ने एक अप्रैल को होने वाले दूसरे चरण के प्रत्याशियों के लिए यह विश्लेषण किया है। आपराधिक रिकार्ड वालों में बीजेपी का प्रत्येक तीसरा उम्मीदवार आपराधिक रिकार्ड वाला है।

रिपोर्ट के अनुसार “345 प्रत्याशियों का विश्लेषण किया इनमें से 37 ने अपने विरुद्ध आपराधिक मामले दर्ज होने की जानकारी दी है। इनमें से 30 (नौ प्रतिशत) तो गंभीर आपराधिक मामलों में लिप्त रहे हैं।” प्रत्याशियों की वित्तीय स्थिति के बारे में भी एडीआर ने अपनी रिपोर्ट में बताया है जिसके अनुसार 345 में से 73 प्रत्याशी (करीब 21 प्रतिशत) करोड़पति हैं।

कितने दागी किस पार्टी के
भाजपा के 34 में से 11 (32 प्रतिशत)
कांग्रेस के 28 में से पांच (18 प्रतिशत)
एआईयूडीएफ के सात में पांच (71 प्रतिशत)
असम गण परिषद के छह उम्मीदवारों में से दो (33 प्रतिशत)
असम जातीय परिषद के 19 कैंडीडेट्स में से तीन (16 प्रतिशत)
यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल एआईएफबी, एसयूसीआई (सी) के एक-एक उम्मीदवार

इनके खिलाफ गंभीर प्रकरण
रिपोर्ट के अनुसार, भाजपा के 34 में 10
असम जातीय परिषद के 19 में से तीन
एआईयूडीएफ के सात में से तीन
असम गण परिषद के छह प्रत्याशियों में से दो
कांग्रेस के 28 में से दो
एआईएफबी, एसयूसीआई (सी) तथा यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल के एक-एक उम्मीदवार के विरुद्ध गंभीर आपराधिक मामला दर्ज है।

61 फीसदी ने नहीं की ग्रेजुएशन
इनमें से करीब 209 (61 प्रतिशत) प्रत्याशियों ने शैक्षणिक योग्यता 5वीं से 12वीं के बीच बताई है और 131 ने ही खुद को ग्रेजुएट बताया है। 2 डिप्लोमा धारक हैं और तीन उम्मीदवार केवल साक्षर हैं।
-Hindi News Content By Googled