62 हजार से ज्यादा संक्रमित-Hindi News

Hindi News – नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या में दो दिन की कमी के बाद बुधवार को एक बार फिर बड़ा इजाफा हुआ। बुधवार को देर रात तक देश भर में 62 हजार से ज्यादा नए संक्रमित मिले। महाराष्ट्र में संक्रमितों का आंकड़ा एक बार फिर 40 हजार के करीब पहुंच गया। […]

62 हजार से ज्यादा संक्रमित-Hindi News

Hindi News – नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या में दो दिन की कमी के बाद बुधवार को एक बार फिर बड़ा इजाफा हुआ। बुधवार को देर रात तक देश भर में 62 हजार से ज्यादा नए संक्रमित मिले। महाराष्ट्र में संक्रमितों का आंकड़ा एक बार फिर 40 हजार के करीब पहुंच गया। एक दिन पहले राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एक हजार से कम केसेज आए थे, लेकिन बुधवार को संक्रमितों की संख्या फिर 18 सौ से ऊपर पहुंच गई। कर्नाटक में संक्रमितों का आंकड़ा चार हजार से ऊपर पहुंच गया तो देश भर में वायरस से संक्रमित होने वालों की संख्या एक करोड़ 22 लाख का आंकड़ा पार कर गई। मार्च के महीने में तीसरी बार संक्रमण से मरने वालों की संख्या तीन सौ से ऊपर रही।

गौरतलब है कि इस हफ्ते सोमवार और मंगलवार को कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आई थी। रविवार को 68 हजार के पीक पर पहुंचने के बाद सोमवार को 56 हजार और मंगलवार को 53 हजार नए केस मिले। लेकिन बुधवार को आंकड़ा एक बार फिर 62 हजार से ऊपर चला गया। देर रात तक पंजाब, छत्तीसगढ़, हरियाणा सहित कई राज्यों के आंकड़े अपडेट नहीं हुए थे। उनके अपडेट होने के बाद यह संख्या और ऊपर जा सकती है और रविवार के 68 हजार के पीक तक पहुंच सकती है। बहरहाल, बुधवार को देर रात तक पूरे देश में 62,367 नए केसेज मिले थे और 336 लोगों की मौत हुई थी।

देश में सर्वाधिक संक्रमित महाराष्ट्र में बुधवार को 39,544 नए संक्रमित मिले। एक दिन पहले यह आंकड़ा 27 हजार पर था। राज्य में 23,600 लोग इलाज से ठीक हुए और रिकार्ड संख्या में 225 लोगों की मौत हुई। राज्य में एक दिन में 16 हजार के करीब एक्टिव केस बढ़े, जिसके बाद महाराष्ट्र में एक्टिव केसेज की संख्या बढ़ तीन लाख 56 हजार 248 हो गई। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बुधवार को 1,819 नए केसेज मिले और सिर्फ 399 लोग इलाज से ठीक हुए। राज्य में 11 लोगों की मौत हुई।

दक्षिण के राज्यों में कोरोना के केसेज बढ़ने का सिलसिला जारी है। तमिलनाडु में बुधवार को 2,579 नए मामले आए और 1,527 लोग इलाज से ठीक हुए। केरल में 2,653 नए संक्रमित मिले, जबकि 2,039 लोग इलाज से ठीक हुए। कर्नाटक में 4,225 नए मरीज मिले, जबकि 2,928 लोग इलाज से ठीक हुए। बुधवार को गुजरात में 2,360 नए मामले आए और 2,004 लोग इलाज से ठीक हुए। मध्य प्रदेश में 2,332 नए मामले सामने आए। इस बीच कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई राज्यों ने अपने यहां फिर से स्कूल बंद करने का ऐलान किया है।

फिर बढ़ाई गई टेस्टिंग

कई महीनों तक टेस्टिंग कम करने के बाद एक बार फिर कोरोना वायरस के संक्रमण का पता लगाने के लिए टेस्टिंग बढ़ा दी गई है। मार्च के आखिरी दो हफ्ते में टेस्टिंग में करीब 40 फीसदी का इजाफा हुआ है। एक बार फिर हर दिन 10 लाख लोगों की टेस्टिंग होने लगी है। गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर तक हर दिन 11 लाख लोगों का टेस्ट होता था लेकिन जनवरी में इसे कम कर दिया गया। जनवरी से लेकर मार्च के दूसरे हफ्ते तक औसतन छह लाख टेस्टिंग रोज हो रही थी।

विशेषज्ञों का दावा है कि टेस्टिंग कम होने और ट्रेसिंग का काम रूक जाने से वायरस के संक्रमण में तेजी शुरू हुई है। सरकार ने भी इस बात को माना था। केंद्र सरकार ने माना था कि टेस्टिंग कम होने से बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले कोरोना मरीजों की पहचान नहीं हो पाती है। ऐसे लोग बिना किसी रोक-टोक के बाहर घूमते हैं। इनसे संक्रमण तेजी से फैलता है। बहरहाल, देश में अब तक 24 करोड़ 36 लाख से ज्यादा लोगों की जांच हो चुकी है। इनमें पांच फीसदी यानी 1.22 करोड़ लोग संक्रमित पाए गए।

कोरोना वायरस की दूसरी लहर में देश के 10 राज्यों में ज्यादा तेजी से केस बढ़ रहे हैं। महाराष्ट्र में वायरस की संक्रमण दर सबसे ज्यादा है। यह 5.65 फीसदी के राष्ट्रीय औसत के तीन गुना है। इसके बाद गोवा, नगालैंड, चंडीगढ़, केरल, सिक्किम, पश्चिम बंगाल आदि राज्यों में भी राष्ट्रीय औसत से ज्यादा दर से वायरस का संक्रमण फैल रहा है। देश में पंजाब और सिक्किम में कोरोना मरीजों की मृत्यु दर सबसे ज्यादा है।
-Hindi News Content By Googled