जनसंख्या बढ़ने पर पुलिस बलों की संख्या भी बढ़ेगी। इसके लिए 48,000 447 पदों में से 24,000 से अधिक पदों पर विज्ञप्ति निकाली जाएगी और नियुक्ति प्रक्रिया शुरू की जाएगी. बिहार अग्निशमन सेवा में भी 150 से ज्यादा पदों पर नियुक्तियां जारी हैं. इसके अलावा 541 सहायक लोक अभियोजक पदों पर भी नियुक्ति प्रक्रिया जारी है.

राज्य ब्यूरो, पटना। बिहार पुलिस में नई भर्ती से गृह मंत्रालय के स्थापना बजट में करीब 20 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई है. नियोजित परियोजना में चार करोड़ रुपये की कटौती की गयी है. इस बजट का फोकस नए पुलिस अधिकारियों की भर्ती करना, ग्रामीण क्षेत्रों में 112 टेलीफोन सेवाओं का विस्तार करना, नए पुलिस भवन बनाना और पुलिस के लिए नए उपकरण खरीदना है।

आपातकालीन स्थितियों में त्वरित सहायता प्रदान करने के लिए डायल-112 के दूसरे चरण में लगभग 766 करोड़ रुपये की लागत आएगी। जनसंख्या बढ़ने पर पुलिस बलों की संख्या भी बढ़ेगी। इसके लिए 48,000 447 पदों में से 24,000 से अधिक पदों पर विज्ञप्ति निकाली जाएगी और नियुक्ति प्रक्रिया शुरू की जाएगी. बिहार अग्निशमन सेवा में भी 150 से ज्यादा पदों पर नियुक्तियां जारी हैं. इसके अलावा 541 सहायक लोक अभियोजक पदों पर भी नियुक्ति प्रक्रिया जारी है.

300 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा नया पुलिस भवन

नये वित्तीय वर्ष 2024-25 में पुलिस कार्यालय भवन और नये थाने-ओपी के निर्माण के लिए 300 करोड़ रुपये रखे गये हैं. वर्तमान में मॉडल ट्रैफिक पुलिस स्टेशन, नक्सल पुलिस स्टेशन, रेलवे पुलिस स्टेशन सहित 165 पुलिस स्टेशन भवन निर्माणाधीन हैं। इसके अलावा, पुलिस और कर्मचारियों के लिए 454 आवास इकाइयां बनाई जा रही हैं।

बिहार अग्निशमन एवं गृह रक्षा वाहिनी की 15 योजनाओं का निर्माण कार्य भी प्रगति पर है. राज्य की 41 जेलों के लिए सुरक्षा उपकरणों की खरीद को भी मंजूरी दे दी गई है. 484 करोड़ रुपये से पटना की बेउर जेल समेत मुजफ्फरपुर, भागलपुर, मोतिहारी, पूर्णिया, बक्सर जैसी जेलों में नए उद्योग लगाने के लिए उपकरण खरीदे जाएंगे।

कैमरा निगरानी बढ़ाने के लिए नौ शहर 150 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे

नए साल में प्रदेश के नौ शहरों में इंटीग्रेटेड सीसीटीवी कैमरे और ट्रैफिक सिग्नल सुविधाएं बनाई जाएंगी। इसके अलावा राज्य की जिला अदालतों और न्यायाधिकरणों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. पुलिस मुख्यालय के अंतर्गत सभी 40 पुलिस जिलों में सैटेलाइट आधारित पोलनेट-2 और फ्लाइंग टर्मिनल स्थापित किए जाएंगे। इन सभी योजनाओं और उपकरणों की खरीद के लिए वित्तीय वर्ष 2024-25 में 150 करोड़ रुपये निर्धारित किये गये हैं.

यह भी पढ़ें- नीतीश कुमार: अब बीजेपी के लिए खतरे की घंटी बन रही है कांग्रेस! अखिलेश ने नीतीश कुमार को लेकर की ये भविष्यवाणी!

यह भी पढ़ें- बिहार शिक्षा बजट: इंजीनियरिंग छात्रों को मिलेंगे इंटर्नशिप के अधिक अवसर, बजट 26,855 करोड़ रुपये बढ़ा